विकासखंड के सरपंच सचिवों की हुई बैठक

टिमरनी।  विकासखंड के सभी सचिव, सरपंच, रोजगार सहायकों को समय पर काम करना पड़ेगा। यदि ऐसा नहीं हुआ तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिसकी जबावदारी स्वंय की होगी। बैठक के दौरान यह बाते जिला पंचायत सीईओ केडी त्रिपाठी ने कही। दरअसल शुक्रवार को काष्ठ भंडार के नीलामी हाल में विकासखंड स्तरीय ग्राम पंचायतों की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें विकासखंड के सभी सचिव, सरपंच सहित जिला पंचायत सीईओ केडी त्रिपाठी, परियोजना अधिकारी ओपी मुकाती, जप सीईओ धर्मेंद्र यादव उपस्थित हुए। दोपहर 1 बजे शुरू हुई बैठक शाम साढ़े सात बजे तक चलती रही। इस दौरान ग्राम पंचायतों में चल रहे आवास निर्माण तथा अन्य विकास कार्यों को लेकर सीईओ त्रिपाठी ने सचिव सरपंचों से प्रोग्रेस रिपोर्ट ली। सीईओ ने पंचायत सचिवों को दिशा निर्र्देश देते हुए कहा, कि आप सभी अपनी पंचायतों में अधूरे आवासों को जल्द पूरा कराए। जिन आवासों का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है, उनकी फोटो भी अपलोड करें। साथ ही इनके निर्माण कार्य में आने वाली परेशानियों को भी जल्द दूर किया जाए। ताकि हितग्राही को समय पर आवास निर्माण की राशि मिल सकें। इस दौरान अधूरे आवास निर्माण कार्य को लेकर बड़झिरी, केली सचिव को फटकार लगाई।

आवास निर्र्माण में आ रही रेत की दिक्कत होगी दूर

जनपद क्षेत्र के अंतर्गत 73 ग्राम पंचायतें आती है। जिनमें से अधिकतर पंचायतों में आवासों के निर्माण कार्य चल रहे है। इनके निर्माण कार्य में सबसे अधिक हितग्राही व पंचायत को जो रेत की समस्या आ रही है। उसके हल के लिए सीईओ त्रिपाठी ने सभी पंचायत सचिवों को खनिज अधिकारी संजयसिंह सोलंकी की उपस्थिति में यह निर्देश दिए कि सभी पंचायत सचिव अपनी अपनी पंचायतों के समीप जो भी रेत के स्थान है। उनकी विधिवत नपाई कराकर एक आवेदन भरें ताकि उक्त स्थल से रेत को उठाकर आवास के लिए उपयोग में लिया जा सकें। साथ ही उन्होंने यह भी कहा, कि इस रेत का कोई भी गलत उपयोग न करें। इसके लिए एक-एक प्रपत्र भी सभी ग्राम पंचायतों को जारी किए जाएंगे। जिन प्रपत्रों को पूर्ण रूप से भरकर पंचायतों के द्वारा जनपद पंचायत कार्यालय में जमा कराए जाएंगे। इसी के माध्यम से पंचायतों में जो आवास निर्माण कार्य चल रहे है। उन हितग्राहियों को रेत आवश्यकता अनुसार मिल सकेगी। पंचायत सचिव सरपंचों की यह बैठक शाम 7 बजे तक जारी रही जिस बेैठक में विकासखंड की समस्त ग्राम पंचायतों के पंचायत सचिव,रोजगार सहायक व ग्राम सरपंच मौजूद थे।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

हरदा मंडी सचिव और एसीईओ को शोकाज नोटिस

हरदा।  सीएम हेल्पलाइन के एल-3 एवं एल-4 स्तर पर दर्ज प्रकरणों की चेकलिस्ट तैयार कर ...

error: Content is protected !!