थर्ड आई के ज्ञान से बच्चे काफी चर्चित हो रहे हैं

टिमरनी। यदि आपको सड़क पर आंखों पर काली पट्टी बांधकर बाइक चलाने को कहा जाए तो यकीनन आपके पैरों के नीचे से जमीन खिसक जाएगी, लेकिन टिमरनी शहर के रहने वाला एक बालक इन्हीं कारनामों के लिए आजकल काफी चर्चित हैं। वार्ड 9 में रहने वाला 13 वर्षीय बालक विमल पिता विजय कुमार सोनी अपनी दोनों आंखों पर काली पट्टी बांधकर भीड़भाड़ वाले इलाकों में बाइक चलाता है।

परिजनों ने बताया कि विमल अपनी दोनों आंखों पर पट्टी बांधकर पेपर भी पड़ता है। वहीं नोट के नंबर भी बता देता हैं। मालूम हो कि यह सब संभव हुआ है थर्ड आई के ज्ञान से। इतना ही नहीं ऐसे बच्चे शिक्षा के क्षेत्र में भी झंडे गाड़ रहे हैं। थर्ड आई के ज्ञान से घोर अंधकार में शिक्षा के ज्ञान का उजागर कर रहे हैं। इसके लिए एक विशेष ट्रेनिंग लेकर बच्चे इन खतरनाक कारनामों को इतनी आसानी से आंखों पर काली पट्टी बांधकर कर लेते हैं, जैसे कोई सामान्य व्यक्ति करता है। इन्हीं खतरनाक कारनामों के लिए आजकल ये बच्चे काफी चर्चित हो रहे हैं।

प्राचीन काल की है पद्घति

अभिभावक भी बच्चों को इस प्रकार की ट्रेनिंग देने में रुचि ले रहे हैं। ट्रेनिंग लेकर बच्चों को सड़कों पर आंखों पर काली पट्टी बांधकर बाइक और साइकिल दौड़ाते हैं तो हर कोई दांतों तले उंगलियां दबाने को मजबूर हो जाता है। संस्था के संचालकों ने बताया कि प्राचीन काल में हमारे महापुरुष इसी अंतर ध्यान पद्घति का प्रयोग कर कठिन से कठिन कार्यों को आसानी से कर लेते थे। बच्चों को ट्रेनिंग देने का उद्देश्य उनकी ब्रेन पावर बढ़ाना है। जो अंतर ध्यान से ओर भी आसान हो जाती है। ट्रेनिंग सेंटर संचालकों का कहना है, कि बच्चों को आंखों पर काली पट्टी बांधकर पढ़ाई करने का भी प्रशिक्षण दिया जाता है। आंखों पर पट्टी बांधकर हर प्रकार के रंग, वस्तुएं पहचान लेते हैं। पट्टी बंधे घर और बाहर आसानी से चल-फिर लेते हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

हरदा मंडी सचिव और एसीईओ को शोकाज नोटिस

हरदा।  सीएम हेल्पलाइन के एल-3 एवं एल-4 स्तर पर दर्ज प्रकरणों की चेकलिस्ट तैयार कर ...

error: Content is protected !!